Categories
Motivational Musings

एक आदत नही बदलती

दिन रात लोग बदलते हैं,
दिन बदलते हैं,
रात बदलते हैं।
जिंदगी बदलती है,
लेकिन एक आदत नही बदलती,
ये भरोसा करने की आदत।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational Musings

मेहनत की कियारी

मेहनत की कियारी में,
बहोत से फूल बोये हैं।
कुछ सूखे कुछ मुरझाए हैं,
कुछ तो जम के खिलखिलाए हैं।
तुम्हारे पत्थर फैक देने से,
गमले टूट सकते हैं,
मेरे बगीचे नही।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational

इल्ज़ाम आलस पर

वजह वजह निकाल निकाल कर,
इल्ज़ाम लगाने लगे।
खुद की गलतियों को,
पराया बताने लगे।
खुद से बैठें हैं सुस्त,
इल्ज़ाम आलस का लगाने लगे।

– मनीषा कुमारी

Categories
Musings

बुरे क्यों न लगे

कहतें है बुरे हो तुम
और बुरी है तुम्हारी बातें,
और क्यों न हों,
जब भला किसी का कर दिया,
तो बुरे क्यों न लगे।

Categories
Motivational

जो अपने पास नही….

जो अपने पास है नही,
उसकी चाहत करते हो।
जो तुम्हारे पास है,
उससे क्यों दूर जाते हो।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational Musings

क्या बदलना बुरा है?

वक्त बदले सब बदले,
हम बदले तुम बदले।
देखो ये किताबें भी बदली,
हाँथों की लकीरें भी बदली।
देखते देखते किस्मत भी बदली,
और तुम कहते हो बदलना बुरा है!

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational Musings

पत्थर भी रो पड़ा

पत्थर भी रो पड़ा,
ये पत्थर सी दुनिया देख कर।
ये इंसान पत्थर हो गया,
अपना जहां देख कर।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational Musings

एक ही पल में…

एक ही पल में,
कहाँ से कहाँ पहोंच जाते हैं।
कभी कहीं चल पड़ते हैं,
तो कभी अटक जाते हैं।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational

हर इंसान अहम होता है…

हर एक इंसान
तुम्हारी जिंदगी में,
एक अहम हिस्सा होता है।
जो किसी भी पल,
किसी भी दिन,
तुम्हारी जिंदगी में,
सवेरा कर सकता है।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational

कुछ सीखना है बाकी

जिंदगी में कोई खाब पूरा करना है,
दुनिया चाहे भूल जाये,
लेकिन कुछ करना है बाकी।
कैसे रोक दु अपने जीवन के ज्ञान को,
अभी और कुछ भी सीखना है बाकी।

– मनीषा कुमारी