Categories
Motivational

महत्व का पता

जिस तरह पौंधों के
दुनिया में धीरे से,
खत्म होने पर
उनकी महत्व का
पता चलता है।
वैसे ही कुछ लोगों के
नष्ट हो जाने के बाद,
उनका महत्व पता चलता है।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational

तुम अगर न होते

तुम अगर न होते,
जिंदगी में हमारे,
तो हम भी रास्ता भटक जाते।
अच्छा है कि तुम साथ हो
नही तो हम मिट ही जाते।
तुम पर लिखकर ही तो हमने
अपना दुख बाँटा हैं।
तुम रोते हो तो,
हमे भी रोना आता है।
बचपन से साथ हो,
यूँ हमेशा साथ रहना।
पन्ने पलटते पलटते
जिंदगी गुजरी,
यूँ पन्ने लिखते लिखते
जिंदगी चलती भी जाये।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational

काम बचा है थोड़ा सा

काम बचा है थोड़ा सा,
जिस काम लिए में जागा था।
चलो अब थोड़ा रुक जाऊं,
जाऊं कहीं ठहर जाऊं।
लेकिन यहाँ अच्छा बहोत लगता है,
चलो कल करेंगे काम,
आज करलेते हैं आराम।

अरे! दूसरा दिन हो आया,
मेरा काम भी बढ़ गया।
अब इसे पूरा करने में,
दिन भर लग जायेगा।
काश कल ही करलिया होता,
फिर न आज ये रोना होता,
आज आराम का मौसम होता।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational

जिंदगी परेशान हो गई

किसी ने जिंदगी जिंदगी
इतना किया कि,
जिंदगी भी परेशान हो गई
बोली मेरे बारे सोंचने से ज्यादा,
मुझे जीना सीख ले
नही तो मेरा पीछा छोडदे।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational

वक्त भी कहेगा

तुम मुझे क्या बिगारोगे,
आज तूम जो वार करोगी,
कल वक्त तुम पर करेगा।
भले साल लग जाये,
वक्त न बदलेगा,
न कभी रुकेगा,
तुम बदलोगी ये तो,
वक्त भी कहेगा।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational

मुसीबत

यूँ भागो मत मुसीबत से,
ये मुसीबत भी एक परीक्षा है।
देखो तुमसे कह रही,
दोस्त हूँ मै तेरी।
अगर तूने खुशी से मुझे अपनाया,
तो में रास्ता बन जाऊंगी।
तू मुझे पार कर करके देख,
मैं तेरी मंजिल बंजाऊँगी।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational

इंतजार

कहतें हैं कि इंतजार की घड़ी समाप्त हुई,
लेकिन इंतजार तो पल पल बदलता है।
हर पल एक नई चीज का इंतज़ार होता है,
उम्र बढ़ते बढ़ते इंतजार भी
अलग अलग प्रकार होता है।
फिर ये इंतजार तो उम्र भर रहता है।
फिर न जानें कैसे लोगों का,
इंतजार खत्म होता है।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational

कलियाँ

कलियां भी खिल जाती हैं,
खुद ब खुद बस कोशिश करते ही।
तो क्यों जोड़ लगाता है इंसान,
कलियों को फूल बनाने में।
भले ही पता है उन्हें
बिखर जाएंगे वो
कुछ भी उनके करने से।

– मनीषा कुमारी

Categories
Motivational

सपनों की दुनिया में

सपनों की दुनिया में,
खोना अच्छा है।
कभी आराम करना भी
अच्छा है लेकिन,
इतना न खोना कभी
की खुद को ढूंढ न सको।
ढूँढली मंजिल जो तुमने
तो रास्तों को न छोड़ना।
कुछ देर रुके हो
अब आगे बढ़ते ही जाना।

– मनीषा कुमारी

#जिंदगी #जीवन #लोग #कविता #हिंदी #हिन्दीकविता #life #lifepoetry #poetry #poetrylover #poet #poems #hindi #Hindipoetry #writers #writersofinstagram #writersofindia #सपना #dreams #sucsess

Categories
Motivational

चाहते तो सब हैं…

चाहते तो सब हैं,
अच्छा बनना लेकिन,
बस अच्छाई अपनाने से
डरते हैं सब।
आज कल तो,
अच्छाई से लोग मुँह
मोड़ लिया करते हैं।
अच्छी बातों को तो,
बस हवा में उड़ा देते हैं।
बुरे को बुरा सही
अच्छे को सब सही।
तभी तो अनजान ही
अनजान का फायदा
उठा रहा खुशी खुशी।

– मनीषा कुमारी

#जिंदगी #जीवन #लोग #कविता #हिंदी #हिन्दीकविता #life #lifepoetry #poetry #poetrylover #poet #poems #hindi #Hindipoetry #writers #writersofinstagram #writersofindia