Categories
Musings poetry

दो बातों के बीच

असमंजस में है मन,
किसी दो बातों के बीच,
की पा लिया सब कुछ
ये जिंदगी है,
की सब कुछ मिलता जा रहा,
ये जिंदगी है।

       – मनीषा कुमारी

4 replies on “दो बातों के बीच”

क्या पाया क्या खोया हमने
कब तक साथ सदा वो रहे यहाँ
सारे सुख हैं धरा बेमानी पर
साथ छाया का सत्य यहाँ।।

वही अपनी हैं सांझ सवेरे
रहती सदा है साथ यहाँ
जैसा वक़्त गुजरे हमारा
पर साथ छोड़े ना कभी यहाँ।।

ऐ दोस्त कलम के सुनो बात हमारी
किसी भृम में रहना ना आप यहाँ
सच्चा साथी देखो कलम को
देखो परछाईं को आप यहाँ।।

Like

क्या पाया क्या खोया हमने
कब तक साथ सदा वो रहे यहाँ
सारे सुख हैं धरा बेमानी पर
साथ छाया का सत्य यहाँ।।

वही अपनी हैं सांझ सवेरे
रहती सदा है साथ यहाँ
जैसा वक़्त गुजरे हमारा
पर साथ छोड़े ना कभी यहाँ।।

ऐ दोस्त कलम के सुनो बात हमारी
किसी भृम में रहना ना आप यहाँ
सच्चा साथी देखो कलम को
देखो परछाईं को आप यहाँ।।.
👍

Like

क्या पाया क्या खोया हमने
कब तक साथ सदा वो रहे यहाँ
सारे सुख हैं धरा बेमानी पर
साथ छाया का सत्य यहाँ।।

वही अपनी हैं सांझ सवेरे
रहती सदा है साथ यहाँ
जैसा वक़्त गुजरे हमारा
पर साथ छोड़े ना कभी यहाँ।।

ऐ दोस्त कलम के सुनो बात हमारी
किसी भृम में रहना ना आप यहाँ
सच्चा साथी देखो कलम को
देखो परछाईं को आप यहाँ।।.
👍

What have we found, what have we lost
How long have they been together forever
All the happiness is on the meaningless
With the truth of the shadow here.

He is his own evening
Always stays here with
As our time passed
But never leave it here.

Hey friend, listen to our pen
Don’t live in any earth here
True partner look at the pen
Look at the shadow here.
4

Like

क्या पाया क्या खोया हमने
कब तक साथ सदा वो रहे यहाँ
सारे सुख हैं धरा बेमानी पर
साथ छाया का सत्य यहाँ।।

वही अपनी हैं सांझ सवेरे
रहती सदा है साथ यहाँ
जैसा वक़्त गुजरे हमारा
पर साथ छोड़े ना कभी यहाँ।।

ऐ दोस्त कलम के सुनो बात हमारी
किसी भृम में रहना ना आप यहाँ
सच्चा साथी देखो कलम को
देखो परछाईं को आप यहाँ।।.
👍

What have we found, what have we lost
How long have they been together forever
All the happiness is on the meaningless
With the truth of the shadow here.

He is his own evening
Always stays here with
As our time passed
But never leave it here.

Like

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s