Categories
Motivational

शांत रहने की ताकत

#Motivational#Hindipoetry #poetry #writersofimstagram #writers #writersofindia

शांत जीवन वयतीत करना कोई बुरा बात नही होती लेकिन फिर भी लीगों को दिक्कत होने लगती है पता नही क्यों शांत लोग उन्हें भाते नही लेकिन देश में शांति जरूर चाहते है। गजब दुनिया लगती है अतरंगी लोग है जिसमें। लोगों को पता होने के बावजूद की शांत जीवन सही और अच्छा होता है लोग नफरत करने पर ज्यादा विश्वाश करते है।

नफरत सच मे बहोत बुरी चीज़ होती है कभी भी किसी से भी हो सकती। आज कल दुनिया मे किसी को किसी से नफरत करने के लिए किसी वजह की जरूरत नही होती। आज कल तो लोग बिना एक दूसरे को जाने भी नफरत कर लेते है। कुछ लोगों को छोटे बच्चे से नफरत होती है और कुछ को अपने ही बच्चे से ही नफरत होती है। नफरतों का पहाड़ खड़ी कर रहा दिवार है। भाई – भाई को लड़ा रहा है वैसे भाइयों की लड़ाई पुरानी होगई क्यों की अब नया तमाशा आया है पड़ोसी – पड़ोसी भी लड़ते है। और कुछ लोग तो लड़ने का बहाना ढूंढा करते है। मेरे आसपास भी कई सारे ऐसे लोग रहते है भले ही शायद से अच्छे हो लेकिन नफरत करने कि नीति पर पूर्ण विश्वाश रखते है। इसमें तो पड़ोसी लोग तो पहले है लेकिन मुझे बचपन से सिखाया गया ह किसी के बारे में बुरा बोलना नही चाहिए लेकिन झूट भी नही बोलना चाहिए।

एक बात तो सब जानते है कि जो लोग ज्यादा गुस्सा या नफरत करते है उनसे अगर प्यार से बात की जाए तो वे शांत हो सकते है। यानी अगर हम अपना स्वभाव शांतिपूर्वक रखेंगे तोहमरे जिंदगी की आधे से ज्यादा परेशानियां दूर हो सकती है। एक तरह से हम इसे अहिंसा वाद फैलाना भी कह सकते हैं जिसकी प्रेरणा खुद महात्मा गांधी जी ने दी थी। उन्होंने अहिंसा और सत्य के बल पर देश को आजाद करवाया था। यह उनकी दी हुई सबसे अच्छी सिख है।

By Manisha

writing gives power to me